नोटबंदी के दो साल: पंजाब, हरियाणा में कांग्रेस ने किया विरोध प्रदर्शन-Navbharat Times

चंडीगढ़ न्यूज़: चंडीगढ़, नौ नवंबर (भाषा) कांग्रेस ने नोटबंदी के खिलाफ शुक्रवार को पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन किया और इस कदम से ‘‘अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाने एवं लोगों के लिए परेशानी पैदा करने’’ को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा। कांग्रेस की पंजाब इकाई के प्रमुख सुनील जाखड़ और पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने नोटबंदी के दो साल पूरे होने के मौके पर चंडीगढ़ के सेक्टर-17 स्थित भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) भवन के पास विरोध प्रदर्शन किया। मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उन्होंने नोटबंदी को ‘‘जनविरोधी’’

8 नवंबर, 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने का ऐलान किया था. कांग्रेस ने इस फैसले को अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाने वाला बताया था.

नोटबंदी के 2 वर्ष पूरे होने पर हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने माथे पर काली पट्टी बांध कर काले दिवस के रूप में मनाया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राजीव भवन से उपायुक्त कार्यालय के पास लालबहादुर शास्त्री की प्रतिमा तक रोष रैली निकाली और प्रतिमा के पास बैठ कर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी

नोटबंदी से कालाधन खत्म करने के सरकार के तर्क को RBI ने कर दिया था खारिजः रिपोर्ट– News18 हिंदी

नोटबंदी का प्रस्ताव 7 नवंबर 2016 को आरबीआई के डायरेक्टर्स को भेजा गया था. प्रस्ताव मिलने के बाद डायरेक्टर्स ने सरकार के इस तर्क को नहीं माना था कि नोटबंदी से काला धन और नकली नोट पर लगाम लगेगी. वित्त मंत्रालय के प्रस्ताव पर आरबीआई के डायरेक्टर्स का कहना था कि लोगों ने ज़्यादातर काले धन का इस्तेमाल रीयल स्टेट और सोने की खरीद में किया है न की कैश में ऐसे में इस कदम का ज़्यादा असर नहीं पड़ेगा.

दो साल बाद बीत जाने के बाद नोटबंदी के ऐलान से ठीक पहले हुई बैठक की डिटेल पहली बार सामने आई है। इससे यह बात साफ हई है कि नोटबंदी की घोषणा से लगभग चार घंटे पहले बुलाई गई बैठक में उस सरकारी दावों को खारिज कर दिया था...

देश में नोटबंदी के दो साल पूरे हो चुके हैं, और इस बीच कई चुनाव भी हुए हैं।

नोटबंदी घोटाले से लाखों जिंदगी हुई बर्बाद, देश के लिए काला दिवस है नोटबंदी - : ममता

नोटबंदी के दो साल: टैक्स आधार बढ़ने की बात कह जेटली ने की तारीफ, राहुल ने बताया क्रूर षड्यंत्र-Navbharat Times

India News: 8 नवंबर 2016 को पीएम नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोटों के चलने से बाहर होने की घोषणा की थी। नोटबंदी के इस फैसले के दो साल पूरे होने पर सरकार और विपक्ष में तीखी तकरार देखने को मिली। जेटली ने जहां इस कदम का बचाव किया वहीं राहुल ने इसे क्रूर षड्यंत्र बताया।